टमाटर की खेती / tomato farming

 टमाटर की खेती 

नमस्ते,  दोस्तों आज की इस पोस्ट मे आपका हार्दिक स्वागत है. आज हम एक ऐसी फसल के बारे मे बात करेंगे जो देश मे ही नहीं बल्कि दुनियाभर मे बड़ी छाव से खाई जाती है इसे लोग बहुत पसंद करते है और इसके बिना सब्जी बनाना बहुत मुश्किल है आप सोच भी नहीं सकते की इसके बिना सब्जी बन सकती है.  जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे है टमाटर की आज की इस पोस्ट मे हम टमाटर की खेती के बारे मे चर्चा करेंगे। 
Tomato farming


   टमाटर तीन तरह से मार्किट मे बिकता है जिसमे पहला है हरा टमाटर जो सब्जी के रूप मे या हरी चटनी के रूप मे भी बिकता है. दूसरा है लाल टमाटर जिसका सबसे अच्छा इस्तेमाल होता है. यदि किसानो के पास कोल्ड स्टोरेज की व्यवस्था है तो उनको अधिक लाभ मिल सकता है. नहीं तो मुश्किल है क्योंकि टमाटर बहुत जल्दी ही बिगड़ जाता है. क्योंकि आप इसको ज्यादा समय तक रख नहीं पाते. 

टमाटर बाजार लेजाते वक्त होने वाली गलतियां 

  सबसे पहली गलती तो यह होती है की मालिक को लगता है की सभी टमाटर एक जैसे है. किसानो की यह भी समझना होगा की हम जो फसल ऊगा रहे है वह किस प्रकार से ऊगा रहे है. तीसरा मुद्दा हम नजदीक के बाजार मे बेच रहे है या हम यहाँ से दूर बेच रहे है. हम यहाँ से दूर बेचना चाह रह है तो उससे हमारी वेरायति मे फर्क आ सकता है. 
   टमाटर एक बड़ा जल्दी से टूटने वाली सब्जी है जो टूट भी जाता है अगर हम इस तरह की तयारी कर रहे है तो आप ऐसी पैकिंग ना करें जिससे निचे वाले टमाटर दब जाये यह बात ख़ास ध्यान मे रखे. अगर आप बोरी के ऊपर बोरी रख देंगे तो आप टमाटर की बोरी को रख नहीं पाएंगे. क्योंकि निचे वाले सब टमाटर दब जायेंगे. कोसिस करें की आप हमेशा प्लास्टिक के कार्टून ही इस्तेमाल करें. 
     बुआई करने से पहले यह बात नक्की कर ले की आप टमाटर किसे बेचना चाहते है सब्जी मंडी मे या किसी कंपनी मे क्योंकि टमाटर उगने के बाद आपके हाथ मे कुछ नहीं रहता. आपको यदि किसी कंपनी को टमाटर बेचना है तो कंपनी की डिमांड के मुताबिक टमाटर का बीज रोपण करें. और कंपनी के साथ बात करने के बाद उसका ट्रेक रिकॉर्ड भी जान ले. 

टमाटर के नुकसान से कैसे बच्चे 

 दोस्तों टमाटर के नुकसान से बचने के लिए फसल का इंसोरेंस करवाए. थोड़ा खर्चा लगेगा लेकिन आपको इससे फायदा भी है यदि फसल ख़राब होती है तो आप इंसोरेंस से पैसे मांग सकते है. दूसरा तरीका है की आप किसान मंत्रालय के द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार खेती करें जिससे आप टमाटर के नुकसान से बच सकेंगे. आपको कही पे बीमारी दिखती है तो उसका इलाज तुरंत करें. 

टमाटर का स्टोरेज कैसे करें 

देखिए दोस्तों आपको टमाटर का स्टोरेज करना है तो आपको हार्वेस्टिंग मतलब टमाटर को तोड़ने पर ज्यादा ध्यान देना होगा.यह ध्यान रखे की टमाटर पूरी तरह से लाल ना हो जाये थोड़ा सा पीला हो तभी उसको तोड़ लीजिये. जब टमाटर थोड़ा पीला होता तब दबता नहीं है और थोड़ा सा सख्त रहता है. जिससे टमाटर के डेमेज होने के चांस कम हो जाते है. 
  टमाटर को कोल्ड स्टोरेज मे ले जाने के बाद यह देखे की आपने टमाटर को कोनसे तापमान पर स्टोरेज किया है. जैसे आलू के साथ टमाटर रख दिया तो ऐसे नहीं चलेगा. इसलिए यह भी ध्यान रखे जितना कम तापमान हो उतना टमाटर के लिए अच्छा है. 

दोस्तों हमने आपको टमाटर के बारे मे बताया हमारी पोस्ट कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताये,  धन्यवाद. 




No comments:

लोकप्रिय पोस्ट

विशेष रुप से प्रदर्शित पोस्ट

फूलगोभी की खेती कैसे की जाती है और खेती कब करे

 फूलगोभी की खेती के बारे में जानकारी    दोस्तों , आज हम बात करेंगे फूलगोभी की खेती की जिसमे हम आपको बताएँगे की फूलगोभी की खेती कैसे की जात...

Powered by Blogger.